आस्था कार्ड कैसे बनाते है 2023 | Astha card yojana ke liye aavedan kaise karen

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Astha card yojana ke liye aavedan kaise karen : राजस्थान सरकार अपने राज्य के नागरिकों के उज्ज्वल भविष्य के लिए विभिन्न सरकारी योजनाओं की शुरुआत करती है ताकि नागरिकों को कोई परेशानी ना हो। 

शारीरिक रूप से जो लोग अक्षम है उन लोगों के लिए आस्था कार्ड योजना शुरू की गयी है। जिसके तहत सरकार विकलांग लोगों को विभिन्न प्रकार के लाभ प्रदान करती है।

राजस्थान सरकार की आस्था कार्ड योजना दिव्यांगों की परेशानी को कम करने में काफी मददगार साबित हुई है। देश के हर जाती के लोगों की मदद करना हर सरकार की जिम्मेदारी है। 

विकलांग लोगो के लिए नियम 12.12.1995 को संसद द्वारा पास   किया गया था और 7.02.1996 को देश में अधिसूचित किया गया था। केंद्र और राज्य सरकारें अपने नागरिकों की मदद करने की पूरी कोशिश करती हैं।

विकलांग लोगों को हर दिन विभिन्न चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। ये हमेशा काम करने के लिए तैयार रहते हैं लेकिन काम आसानी से नहीं मिलता। ये मजदूर आसानी से शारीरिक काम नहीं कर सकते हैं, इसलिए राज्य सरकार की यह जिम्मेदारी है कि वह उनकी आर्थिक मदद करे और उनकी समस्याओं को दूर करे।

यह अधिनियम विकलांग व्यक्तियों को समान अवसर प्रदान करने के लिए सेवाएं और सुविधाएं प्रदान करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों की जिम्मेदारी निर्धारित करता है।

इस अधिनियम द्वारा कवर की गई अक्षमताएं अंधापन, कम दृष्टि, कुष्ठ रोग, श्रवण हानि, चलने की अक्षमता, मानसिक मंदता और मानसिक बीमारी हैं।

आस्था कार्ड योजना क्या है ?

आस्था कार्ड योजना की शुरुआत 2004-05 में राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गेहलोत ने शुरू की थी उसके बाद से ये योजना चली आ रही है । राज्य में बहुत से लोग शारीरिक रूप से अक्षम हैं, जिसके कारण उन्हें कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है, इन सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए आस्था कार्ड योजना शुरू करने का एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया था।

राजस्थान में प्रत्येक विकलांग व्यक्ति को आस्था कार्ड योजना की सुविधा प्रदान की जा रही है। इस योजना के तहत राजस्थान में जिन घरों में 2 या 2 से अधिक सदस्य शारीरिक रूप से 40% से अधिक विकलांग हैं, उन आस्था कार्ड दिए जाता ह।

दिव्यागंजन चिकित्सा प्राधिकरण द्वारा प्रमाणित होते ही इसके लिए आवेदन कर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। राज्य में विकलांग लोगों को प्राथमिक मीडिया, स्वास्थ्य केंद्रों, ग्राम स्तर के कार्यकर्ताओं और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से योजना के बारे में जागरूक किया गया है और फॉर्म भरने में भी मदद किया गया है।

आस्था कार्ड धारक परिवारों को मुफ्त राशन, रसोई गैस सिलेंडर, बीपीएल श्रेणी जैसी चिकित्सा सुविधाएं और इंदिरा गांधी आवास योजना के तहत मुफ्त आवास प्रदान किया जाता है।

आस्था कार्ड योजना में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, सामान्य वर्ग के परिवारों को शामिल किया जाएगा। हालांकि, आस्था योजना का लाभ राज्य में सभी श्रेणियों के परिवारों पर समान रूप से लागू होगा।

अगर आपके क्षेत्र में कोई श्रमिक है जो इस योजना का लाभ लेना चाहता है तो उन्हें इस योजना या हमारे लेख के बारे में जरूर बताएं। ताकि उन्हें आस्था योजना का जानकारी ही नहीं बल्कि लाभ भी मिले। 

आस्था कार्ड क्यों बनाते हैं ?

विकलांगों को आस्था कार्ड से सहायता दी जाएगी। राजस्थान सामाजिक न्याय विभाग ने 2004-05 में आस्था कार्ड योजना की घोषणा की। 

शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिए शुरू की गई इस योजना के तहत बीपीएल श्रेणी के परिवारों के लिए समान सुविधाओं के साथ विशेष रूप से अक्षम व्यक्तियों के लिए आस्था कार्ड उपलब्ध है।

यह योजना इसलिए भी शुरू की गई है ताकि राज्य के विकलांग व्यक्ति को अपनी जरूरतों के लिए किसी और पर निर्भर न रहना पड़े और किसी और से कर्ज न लेना पड़े यानी विकलांग व्यक्ति को किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी का सामना न करना पड़े।

हर साल इस परियोजना को सफलतापूर्वक लागू किया जाता है। आस्था कार्त योजना के तहत विकलांग व्यक्तियों को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाया जाए। राज्य में विकलांग व्यक्ति का सामाजिक एवं आर्थिक विकास एवं विकलांग व्यक्ति के जीवन स्तर में सुधार किया जायगा। 

Astha card yojana ke liye aavedan kaise karen
Astha card yojana ke liye aavedan kaise karen

आस्था कार्ड का लाभ क्या है

  • आस्था कार्ड योजना राजस्थान राज्य के नागरिकों की मदद के लिए बनाई गई एक योजना है।
  • प्रदेश के विकलांग सशक्त एवं स्वावलंबी होंगे।
  • यह योजना विशेष रूप से सक्षम लोगों की आर्थिक स्थिति और जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए शुरू की गई है।
  • राजस्थान में वर्तमान में आस्था कार्ड वाले सभी विकलांग परिवारों को फ्री राशन उपलब्ध कराया जा रहा है।
  • राज्य के सभी सरकारी अस्पतालों में आस्था कार्ड धारकों का बिल्कुल मुफ्त इलाज किया जाता है।
  • राज्य सरकार के संबंधित विभाग द्वारा उन्हें बीपीएल के लिए चलाई जा रही सभी योजनाओं का लाभ मिलता है
  • आस्था कार्ड योजना के तहत विशेष रूप से विकलांग व्यक्तियों को इंदिरा आवास योजना के तहत मुफ्त आवास प्रदान किया जाता है।

आस्था कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज

आस्था कार्ड योजना आवेदन के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। आवश्यक दस्तावेज हैं:

  • आधार कार्ड
  • राशन पत्रिका।
  • निवास प्रमाण पत्र
  • भामाशाह कार्ड।
  • विकलांगता प्रमाण पत्र।
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी।
  • आय प्रमाण पत्र।
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर।
  • बैंक जमा – व्यय का विवरण।
  • BPL प्रमाणपत्र की फोटोकॉपी।
  • विशेष रूप से योग्य व्यक्तियों के प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी।
  • विकलांग व्यक्ति का पासपोर्ट साइज फोटो।
  • विशेष रूप से योग्य व्यक्तियों के प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी।
  • दिव्यांग लोगों की ताजा तस्‍वीरें।
  • शपथ पत्र 

Aastha Card Scheme Terms and Conditions 

  • आस्था कार्ड उन परिवारों को दिया जाता है जहां दो या दो से अधिक सदस्यों की 40% या उससे अधिक विकलांगता हो।
  • वार्षिक पारिवारिक आय 1.20 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • इस योजना का लाभ केवल उन्हीं विकलांग व्यक्तियों को मिलता है जो राजस्थान के स्थायी निवासी हैं।
  • इस योजना के तहत किसी भी आयु या वर्ग (बौने सहित) के विकलांग व्यक्ति आवेदन कर सकते हैं।
  • राजस्थान में ऐसे कई परिवार हैं जहां 2 या अधिक लोग विशेष श्रेणी के अंतर्गत आते हैं, उन्हें सरकार द्वारा आस्था कार्ड योजना के लिए पात्र माना जाता है।
  • ऐसे विशेष रूप से पात्र परिवार जिनकी वार्षिक आय 1,20,000 रुपये है, आस्था कार्ड के लिए पात्र माने जाएंगे।
  • आवेदक शारीरिक रूप से विकलांग होना चाहिए।
  • यदि आवेदक केंद्र या राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई किसी अन्य योजना का लाभ ले रहा है, तो ऐसी स्थिति में उसे आस्था कार्ड योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • यदि आवेदक किसी शासकीय सेवा में कार्यरत है अथवा परिवार का कोई सदस्य शासकीय सेवा में कार्यरत है तो ऐसी स्थिति में उसे इस योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा।

Astha card yojana ke liye aavedan kaise karen (offline)

  • आस्था कार्ड योजना राजस्थान आवेदन पूरी तरह से ऑफलाइन किया जा सकता है। हालांकि, आस्था कार्ड योजना के लिए आवेदन ऑफलाइन और ऑनलाइन  रूप से किया जा सकता है।
  • ऑफ़लाइन आवेदन करने के लिए, सबसे पहले आपको अपने district social welfare department या social justice department के कार्यालय में जाना होगा और कार्ड जनरेशन के लिए नवीनतम फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • इस फॉर्म को सही ढंग से भरने के बाद, आपको इस पर पात्र व्यक्तियों की नवीनतम पासपोर्ट आकार की फोटो चिपकानी होगी और आवश्यक दस्तावेज संलग्न करना होगा।
  • फॉर्म भरने और दस्तावेजों को अटैच करने के बाद भरे हुए फॉर्म को अपने district social welfare department के पास जमा करें इसके बाद आपके आवेदन की जांच की जाएगी। वेरिफिकेशन में फॉर्म और दस्तावेज सही पाए जाने पर आपको आस्था कार्ड मिल जाएगा. 

Astha card kaise banate hai (online)

  • सबसे पहले आपको आस्था कार्ड योजना की ऑफिसियल वेबसाइट (https://sje.rajasthan.gov.in) पर जाना होगा।
  • अब Home page खुलेगा।
  • यहां Apply Online बटन पर क्लिक करें।
  • अब आपको एक नए पेज पर रीडायरेक्ट किया जाएगा जहां आपको अपना नाम, पता, फोन नंबर आदि सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • उसके बाद, आपको सभी documents अपलोड करने होंगे।
  • आवेदन पूरा करने के लिए सबमिट पर क्लिक करें।
  • यह प्रक्रिया आपको ओडिशा बीजू स्वास्थ्य कल्याण के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अनुमति देगी।
  • कृपया भरे हुए आवेदन पत्र के सभी विवरणों को सबमिट करने से पहले सावधानीपूर्वक जांच लें।

आस्था कार्ड का स्टेटस कैसे चेक करे

  • आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए, आपको सबसे पहले आधिकारिक साइट (https://sje.rajasthan.gov.in) पर जाना होगा।
  • अब अपने होम पेज पर SJMS Application Status विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा, जहां आपको एप्लिकेशन नंबर कैप्चा कोड की जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अंत में आप Get Status के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • आपकी एप्लिकेशन स्थिति की जानकारी आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगी।

How to submit feedback OR If you have to give feedback, how can you give feedback?

  • जवाब देने के लिए, सबसे पहले आपको आधिकारिक साइट (https://sje.rajasthan.gov.in) पर जाना होगा।
  • अब आपके होम पेज पर फीडबैक का ऑप्शन दिखाई देगा, आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा, जहां आपको कुछ जानकारी जैसे विषय का नाम, ईमेल आईडी आदि दर्ज करनी होगी।
  • अंत में, आपको सबमिट फीडबैक विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आपकी प्रतिक्रिया दर्ज करने की प्रक्रिया पूरी हो गई है।

Where can I contact for Aastha Card ?

सामाजिक न्याय विभाग, जिलाधिकारी कार्यालय या राज्य सामाजिक न्याय विभाग के पते पर (निदेशालय, विशेष रूप से सक्षम व्यक्ति, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, जयपुर)

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Astha card yojana Helpline Number  

  • Toll-Free Number – 1800 180 6127
  • Email ID – raj.sje@rajasthan.gov.in
Bharat Sarkar Suvidha Home pageClick here
More updateClick here
Join our Facebook pageClick here
Join our WhatsApp groupClick here

Leave a Comment