कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना 2023 | kabir antyeshti anudan yojana ke liye aavedan kaise karen

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

kabir antyeshti anudan yojana ke liye aavedan kaise karen : कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना को बिहार सरकार द्वारा 2007-08 में क्रियान्वित किया गया था। यह योजना समाज कल्याण विभाग द्वारा प्रशासित है। इस योजना के तहत किसी भी उम्र के BPL परिवार के सदस्य की मृत्यु होने पर दाह संस्कार के लिए ₹3000 का भुगतान किया जाता है।

राज्य सरकार प्रदेश की प्रत्येक पंचायत को 5 अनुदान वितरण के लिए 15 हजार रुपये पहले ही भेज चुकी है. इसी तरह, नगर पंचायतों को 30 हजार, नगर परिषदों को 60 हजार और म्युनिसिपल कौंसिल को 90 हजार रुपये पहले से ही उपलब्ध हैं।

ताकि समय पर अंतिम संस्कार के लिए आर्थिक सहयोग दिया जा सके। बीपीएल परिवारों को इस योजना का लाभ तुरंत मिलेगा। कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना 2022 के तहत यदि किसी बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे) परिवार के सदस्य की मृत्यु हो जाती है, चाहे वह किसी भी उम्र का हो, बिहार सरकार उसके अंतिम संस्कार के लिए 3000 का भुगतान करेगी। 

कबीर अंत्योषष्ठी अनुदान योजना का लाभ उसी लाभार्थी को मिलेगा जो 10 वर्ष से अधिक समय से बिहार राज्य में रह रहा हो।

योजना का नाम

Kabir Anteyeshti Anudan Yojana 2023

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का शार्ट नाम

KAAY.

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना क्या है

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना बिहार सरकार द्वारा 2007-08 में लागू की गई थी। कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना के तहत किसी भी उम्र के BPL परिवार के सदस्य की मृत्यु होने पर राज्य सरकार ऐसी परिस्थितियों में अंतिम संस्कार के लिए 3000 रुपये का भुगतान करती है।

कबीर अंत्येष्टि संस्कार अनुदान योजना का संचालन समाज कल्याण विभाग द्वारा किया जाता है। राज्य सरकार ने इस योजना के क्रियान्वयन के लिए राज्य की प्रत्येक पंचायत को 5 अनुदान देने के लिए 15 हजार रुपये पहले ही भेज दिए हैं। 

 इसी तरह नगर पंचायतों को 30 हजार रुपये, म्युनिसिपल कौंसिल  को 60 हजार रुपये और नगर निगमों को 90 हजार रुपये पहले ही भेजे जा चुके हैं। ताकि मृतक के परिवार को समय पर अंतिम संस्कार के लिए आर्थिक मदद की जा सके।

वर्ष 2014 तक बिहार अंत्येष्टि अनुदान योजना के तहत हितग्राहियों को 1500 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती थी। लेकिन कुछ समय बाद से आर्थिक सहायता की पैसा बढ़ा दी गई।

अब वर्ष 2022 में इस योजना के माध्यम से लाभार्थी को अंत्येष्टि व्यय के लिए 3000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। सभी पात्र परिवार इसका लाभ उठा सकते हैं।

साथ ही इस योजना का लाभ केवल उन्हीं परिवारों को मिलेगा जो 10 वर्ष या उससे अधिक समय से बिहार राज्य में रह रहे हैं। इस योजना के तहत दी जाने वाली धनराशि मृतक के परिजनों या निकट संबंधियों को दी जाती है, जिसके माध्यम से गरीब परिवारों को अपने रिश्तेदारों का अंतिम संस्कार करने में मदद मिलती है।

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना overview

Scheme Nameकबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना
Launched In    2022 
Launched Byबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।
Supervised Byबिहार सरकार द्वारा
Year Of Implementation 2007-08
Categoryबिहार सरकार
Purposeपरिवार में मृत्यु होने पर अंतिम संस्कार हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना।
Main Goalआर्थिक रूप से गरीब परिवारों को मृत्यु के बाद उनके परिवार के सदस्यों के दाह संस्कार के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना। 
Beneficiariesगरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले बीपीएल परिवार।
Application procedureऑनलाइन ऑफलाइन।
Helpline Number1800-345-62-62
Email-Id
Official Websitehttp://esuvidha.bihar.gov.in/

implement of kabir antyeshti anudan yojana

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना बीपीएल परिवारों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाती है। क्योंकि अक्सर देखा जाता है कि इन परिवारों के पास पैसों की कमी होती है, जिससे घर का खर्च, बच्चों की पढ़ाई की फीस और दूसरी जरूरतें पूरी करना आसान नहीं होता है.

 जब उनके परिवार में किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है, तो उन्हें पैसे की कमी के लिए अपने रिश्तेदारों पर निर्भर रहना पड़ता है, ताकि केवल उनकी मदद से मृतकों का अंतिम संस्कार किया जा सके।

लेकिन आज के दौर में कोई किसी की मदद के लिए आगे नहीं आता है। इन सभी समस्याओं को देखते हुए बिहार सरकार ने कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना शुरू की है, ताकि इस योजना का लाभ पात्र परिवारों तक बिना किसी देरी के पहुंचाया जा सके।

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का उद्देश्य

आप सभी जानते हैं कि बिहार राज्य में कई जिले ऐसे हैं जहां के लोग आर्थिक रूप से पिछड़े हुए हैं, जहां लोगों की जरूरतों को पूरा करने का कोई रास्ता नहीं है।

बिहार राज्य में बड़ी संख्या में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले BPL परिवार भी हैं, जो आर्थिक रूप से अपनी जरूरतों को पूरा करने में सक्षम नहीं हैं। जब परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु हो जाती है तो दाह संस्कार के लिए पैसे नहीं होते हैं, जिसके कारण दूसरों से पैसे लेने पड़ते हैं।

इसलिए इन सभी लोगों के लिए आर्थिक सहायता की व्यवस्था की गई है। इस पैसे से वह बिना किसी आर्थिक परेशानी के मृतक का अंतिम संस्कार कर सकता है। बिहार राज्य सरकार ने गरीब परिवारों के लाभ के लिए कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना की स्थापना की है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का मुख्य उद्देश्य परिवार में मृत्यु होने पर अंतिम संस्कार के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है। इस योजना के तहत राज्य सरकार बीपीएल परिवारों को 3 हजार रुपये प्रदान करेगी। 

कई बार यह देखा जाता है कि राज्य में कई ऐसे नागरिक हैं जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं, जिनके पास अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा करने का कोई साधन नहीं है, इस स्थिति को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने कबीर अन्तेष्टि अभ्यास योजना 2022 शुरू की है।

योजना का संचालन समाज कल्याण विभाग द्वारा किया जायेगा, इसके अलावा योजनान्तर्गत मिलने वाली लाभ की राशि मृतक के निकट संबंधी या निकट संबंधी को दी जायेगी।

 इस योजना के शुरू होने से अब राज्य के किसी भी बीपीएल परिवार को अंतिम संस्कार के लिए दूसरे नागरिकों के सामने हाथ नहीं फैलाना पड़ेगा। 

अंत्येष्टि अनुदान योजना 2022 से प्रदेश में अब तक हजारों परिवारों को लाभ मिल चुका है और भविष्य में भी पात्र हितग्राहियों को लाभ मिलता रहेगा।

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना की विशेषताएं

  1. अंत्येष्टि अनुदान योजना 2022 के तहत बीपीएल परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु होने पर परिवार को अंत्येष्टि सहायता दी जाती है।
  2. लेकिन केवल वे परिवार जो पिछले 10 वर्षों या उससे पहले बिहार में रह रहे हैं, इस योजना के लिए पात्र हैं।
  3. यह योजना बिहार के समाज कल्याण विभाग द्वारा सुचारू रूप से प्रबंधित की जाती है।
  4. राज्य सरकार इस योजना के लिए पहले ही ग्राम पंचायतों को ₹15,000, नगर पंचायतों को ₹30,000, नगर परिषदों को ₹60,000 और नगर निगमों को ₹90,000 प्रदान कर चुकी है।
  5. बिहार अंत्यष्टि अनुदान योजना का मुख्य उद्देश्य आर्थिक रूप से गरीब परिवारों को मृत्यु के बाद अपने परिवार के सदस्यों के दाह संस्कार के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है।
  6. बिहार सरकार की कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना के तहत लाखों परिवार लाभान्वित हुए हैं।

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का लाभ

  1. इस योजना के तहत बीपीएल परिवारों को लाभ दिया जाएगा।
  2. इस योजना के तहत मृतक के परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए 3000 रुपये का भुगतान किया जाएगा।
  3. कबीर अंत्येष्टि प्रख्या योजना गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों को दी जाएगी।
  4. 2020-21 में लगभग 1715 लाभार्थियों को इस योजना से लाभान्वित करने का लक्ष्य  था और ये पूरा हुआ है ।
  5. 15 हजार पहले से ही ग्राम पंचायत को उपलब्ध कराए जाएंगे। ताकि पात्र लोगों को समय पर लाभ मिल सके।
  6. बिहार अंत्येष्टि अनुदान योजना के तहत हितग्राहियों को वर्ष 2014 तक 1500 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती थी. लेकिन कुछ समय बाद इस आर्थिक सहायता की पैसा बढ़ा दी गई।
  7. अब तक इस योजना से हजारों लोग लाभान्वित हो चुके हैं।
  8. इस योजना का लाभ केवल बिहार के लोगों को ही मिलेगा।
  9. यह आर्थिक रूप से जो लोग कमजोर है उन के लिए शुरू की गई एक विशेष प्रकार की योजना है।
  10. इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप अपने प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी/सहायक, निदेशक, जिला सामाजिक सुरक्षा प्रकोष्ठ कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं.

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का लाभ किसे मिलेगा

कबीर अंत्येष्टि प्रख्या योजना गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों को दी जाएगी। साथ ही बीपीएल परिवारों को भी लाभ दिया जाएगा। 

Fund Disbursement Process of  kabir antyeshti anudan yojana

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना के तहत राज्य सरकार ने राज्य की प्रत्येक पंचायत को 5 अनुदान देने के लिए 15000/- रुपये की राशि पहले ही विप्रेषित कर दी है। इसी तरह, नगर पंचायतों को 30,000/- रुपये, नगर पालिकाओं को 60,000/- रुपये और नगर निगमों को 90,000/- रुपये का भुगतान किया जा चुका है।

ताकि जरूरत पड़ने पर बीपीएल परिवार इस योजना का लाभ उठा सकें। इस योजना का लाभ उठाने के लिए केवल वही लाभार्थी आवेदन करने के पात्र होंगे जो 10 वर्ष या उससे अधिक समय से बिहार राज्य में रह रहे हैं।

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना Eligibility Criteria   

केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा शुरू की गई किसी भी योजना का लाभ उठाने के लिए नागरिकों को उनके द्वारा निर्धारित पात्रता को पूरा करना होगा। उसके बाद उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाता है।

इसी प्रकार राज्य सरकार ने भी कबीर अंत्येष्टि प्रख्या योजना 2022 के अंतर्गत कुछ योग्यताएं निर्धारित की हैं, जो स्पष्ट रूप से बताई गई हैं। 

  1. दान के लिए मृतक की कोई आयु सीमा नहीं है।
  2. आवेदक के पास अपना BPL राशन कार्ड होना चाहिए
  3. लाभार्थी बीपीएल श्रेणी से होना चाहिए।
  4. उम्मीदवार को बिहार का निवासी होना जरूरी है ।
  5. परिवार लगभग 10 वर्षों तक राज्य में रहा होगा।
  6. मृतक की आयु सीमा दान के लिए बाधक नहीं है।
  7. परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु होने पर आयु के अनुसार अलग से कोई राशि नहीं दी जायेगी। सरकार द्वारा निर्धारित राशि का भुगतान किया जाएगा।
  8. बिहार में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले सभी परिवार इस योजना का लाभ उठाने के पात्र हैं।

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज

  1. आधार कार्ड (मृत व्यक्ति)।
  2. स्थायी प्रमाण पत्र।
  3. जाति प्रमाण पत्र।
  4. मृत्यु प्रमाणपत्र
  5. बैंक पासबुक।
  6. लाभार्थी का वोटर कार्ड।
  7. BPL  राशन कार्ड की फोटोकॉपी।
  8. बैंक खाता विवरण।
  9. रिश्तेदार का बैंक खाता। 

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का संचालन समाज कल्याण विभाग द्वारा किया जाता है। 2014 तक अनुदान राशि मात्र 1400 थी। 

लेकिन अब इसे बढ़ा दिया गया है। मृत्यु के समय यह राशि उसके निकट संबंधी या रिश्तेदार को दी जाती है ताकि उसका उपयोग गरीबों के अंतिम संस्कार में किया जा सके।

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का Online Portal  

इस वेबसाइट http://esuvidha.bihar.gov.in/ पर जाएं और नीचे बताए गए तरीके से फॉर्म भरें। 

कबीर अंत्येष्टि अनुदान योजना का PDF डाउनलोड कसीसे करे

यदि आप कबीर अंत्येष्टि योजना विहार फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड करना चाहते हैं, तो इसके लिए कोई ऑनलाइन प्रक्रिया या लिंक नहीं है, आपको कबीर अंत्येष्टि योजना विहार फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड करने की आवश्यकता नहीं है। 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आपको बस अपने मुखिया या वार्ड पार्षद को कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज देने होंगे, वे स्वतः ही आपके आवेदन को ई-सुविधा पोर्टल के माध्यम से अग्रेषित कर देंगे।

Bharat Sarkar Suvidha Home pageClick here
More updateClick here
Join our Facebook pageClick here
Join our WhatsApp groupClick here

Leave a Comment