बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना 2023: एप्लीकेशन फॉर्म, आवेदन स्थिति, लाभार्थी सूची | Bihar Shatabdi niji nalkup yojana 2023 apply online

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Bihar Shatabdi niji nalkup yojana 2023 apply online: यहाँ आपको इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के बारे में सभी जानकारी दी जाएगी। आवेदन कैसे करे, लाभ, पात्रता, लॉगिन, दस्ताबेज अदि। पूरी जानकारी के लिए आर्टिकल को ध्यान से पढ़े

अगर आप एक किसान है तो आप ये बात जानते ही होंगे कि कभी-कभी ऐसा होता है कि बारिश के ना होने की वजा से खेतों की सिंचाई ठीक से नहीं हो पाती है, और इसका सीधा असर फसलों पर पड़ता है क्योंकि उन फसलों को जितनी पानी ज़रुरत होती है उतनी पानी नहीं मिल पाता है। और इस समस्या को देखते हुए हमारे राज्य सरकार ने इस परियोजना शुरू की है, जिसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में देंगे।

इस योजना के माध्यम से बिहार राज्य में किसानों को खेत सिंचाई के लिए पानी ट्यूबवेल लगवाने पर सब्सिडी दी जाएगी। अगर आप भी एक किसान हैं और अब आप अपनी खेत सिंचाई के लिए अपना एक ट्यूबवेल लगाना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को शुरू से अंत तक ध्यान से पढ़ें ताकि आप सभी जान सकें कि ट्यूबवेल या मोटर पंप लगाने पर राज्ज्य सरकार द्वारा कितना अनुदान दिया जाएगा।

तो आप भी सोच रहे होंगे की आपको कितने अनुदान मिलेगा? आज की आर्टिकल में आप सभी जानेंगे कि इस मुख्यमंत्री निजी ट्यूबवेल योजना क्या है? और फिर आवेदन कैसे करें और इसके अलावा आप सभी जानेंगे कि इस बिहार मुख्यमंत्री निजी ट्यूबवेल योजना के लिए अप्लाई करने के लिए किन डाक्यूमेंट्स की जरूरत होगी।

योजना का नाम: बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना क्या है

बिहार के जो छोटे किसान है वो खेत सिंचाई में बर्रिश पर ही भरोसा करते है अगर बारिश नहीं होती तो उनका सेचि भी नहीं होती. बिहार राज्य सरकार उन सभी किसानो को निजी ट्यूबवेल लगाने में सहायता करेगी. इसके लिए उन्हें 80% तक आर्थिक सहायता दी जाएगी.

इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत सामान्य श्रेणी के सभी किसानों को 50% अनुदान मिलने का वादा किया गया है, जबकि पिछड़ा और जो अति पिछड़ा वर्ग के किसानों है उनको 70% अनुदान मिलेगा और जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति है उन किसानों को 80% अनुदान दिया जायगा. सिर्फ इतना ही नहीं, यह जो सब्सिडी है वो कम से कम 70 मीटर तक के 4-6 इंच व्यास वाले ट्यूबवेलों में ही लागू होगी।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के माध्यम से अप्लाई शुरू हो गया है बिहार के राज्ज्य सरकार ने इस योजना के तहत मिलने वाले फायदा को लेकर ऑफिसियल नोटिस जारी कर दी है. इस योजना के माध्यम से फायदे के लिए एप्लीकेशन ऑनलाइन माध्यम से लिये जायेंगे। इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत मोटर पंप सेट खरीदने के लिए सरकार आपको पैसा दे कर ही सहायता करेगी। 

जैसा कि आप सभी किसान ये जानते ही होंगे कि जल ही हम लोगो की जीवन है, अच्छी तरह खेती के लिए सिंचाई की जो पानी है वो खेतों के लिए अमृत से कुछ कम नहीं है। कितने मीटर की बोरिंग पर बिहार सरकार द्वारा कितने प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी और फिर मोटर पंप सेट लगाने पर कितने प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी, इसका पूरी जानकारी हम आपको नीचे दे रहे हैं।

बिहार राज्ज्य सरकार द्वारा बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत लाई गई “सभी खेती को सिंचाई का पानी”, जिसके माध्यम से 4-5 इंच व्यास वाले 70 मीटर गहराई के निजी ट्यूबवेलों को अनुदान दिया जाएगा। तो इसका मतलब यह हुआ कि आप चाहे कितने भी मीटर गहरे बोरिंग के लिए जाएं, कम से कम 15 मीटर से 70 मीटर गहराई तक पानी की खपत पर सब्सिडी दी जाएगी।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना बिहार 2024

योजना का नामबिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना
कब शुरू हुआ    2023 
किसके देखरेख मेंबिहार सरकार
कैटेगरीबिहार सरकार के माध्यम से
डिपार्टमेंटलघु जल संसाधन विभाग, बिहार।
योजना की प्रकारसरकारी योजना
उद्देश्यट्यूबवेल लगाने के लिए सब्सिडी।  
लाभ50% से 100% सब्सिडी। 
लाभार्थीकेवल बिहार राज्य के किसान। 
तारीख11 दिसंबर 2023 से 31 जनवरी 2024 तक. 
सब्सिडी की परिमाणट्यूबवेल पर 30000 की सब्सिडी। 
अमाउंट35,000/- से 70,000/- 
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
Helpline Number0612-2215605 / 6
Email-Id
ऑफिसियल वेबसाइटmwrd.bih.nic.in

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का उद्देश्य

देखा जाये तो बिहार खेती की दृस्टि से एक बहुत बड़ा राज्य है. और इसी राज्ज्य में एक ही समय में दो तरह की स्थिति उत्पन्न हो जाती है मतलब बिहार एक ही समय में एक ही इलाका बाढ़ में डूबा रहता है और एक ही समय में दूसरे इलाके सूखे से ज्यादा प्रभावित रहते हैं. अगर किसान खेती करना चाहता है तो उसे दोनों ही परिस्थिति में काफी साम्सा का सामना करना पड़ता है। 

और जिन क्षेत्रों में वर्षा नहीं होती या फिर बहुत कम होती है, वहाँ जल का स्तर है वो बहुत नीचे चला जाता है, जिसके कारण किसान खेती करने में काफी असमर्थ हो जाता है। इसलिए इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि हर खेत तक सिंचाई का पानी पूछना। जिससे किसानों को कटाई में राहत मिले. साथ ही जो भी किसान मोटर पंप सेट लगाकर दूसरे किसानों को सिंचाई उपलब्ध कराता है, वह भी कहीं न कहीं आय का जरिया बन जाता है।

निजी नलकूप योजना

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना की विशेषताएं

  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत 4-6 इंच व्यास (15 से 70 मीटर गहराई) के निजी ट्यूबवेल पर सब्सिडी दी जाएगी
  • 2-5 hp सबमर्सिबल मोटर पंप या सेंट्रीफ्यूगल मोटर पंप पर सब्सिडी।
  • कम से कम 40 डिसमिल जमीन की पात्रता है
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत 70 मीटर तक के निम्न एवं मध्यम गहराई के निजी ट्यूबवेल एवं मोटर पंपों के लिए अनुदान का प्रावधान है।
  • आधार से जुड़े बैंक अकाउंट (DBT) में दान दो चरणों में वितरित किया जाएगा।  

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का लाभ

  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का फायदे सिर्फ बिहार राज्य के किसानों को ही मिलेगा।
  • इस योजना के माध्यम से बिहार सरकार राज्य के सभी किसानों को सिंचाई के लाभ के लिए अपना निजी ट्यूबवेल स्थापित करने के लिए सब्सिडी दी जाएगी।
  • बिहार के सभी ब्लोक में ट्यूबवेल बेबस्था को शुरू किये जायेंगे।
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का फायदा केवल निजी ट्यूबवेल लगाने की स्थिति में ही मिलेगा।
  • इस योजना का फायदे लेने के लिए किसान के नाम पर कम से कम 40.40% जमीन होनी चाहिए.
  • इस योजना के तहत ट्यूबवेल की बोर्डिंग के लिए ज्यादातर 80% प्रत्तेक फुट की सब्सिडी दी जाएगी।
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत राज्ज्य सरकार अलग-अलग जातियों के अनुसार अनुदान देगी।
  • इस योजना के तहत राज्ज्य सरकार सामान्य वर्ग के किसान आवेदकों को 50% अनुदान, पिछड़ा और अति पिछड़ा वर्ग के आवेदकों को 70% अनुदान और फिर अनुसूचित जाति, जनजाति के आवेदकों को 80% अनुदान प्रदान करेगी।
  • ट्यूबवेल बोर्डिंग के लिए ज्यादातर अनुदान राशि 960 रुपये प्रत्तेक फुट प्रति मीटर गहराई होगी।
  • इस बिहार बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजनाओं के लिए राज्य के सरकार 70 मीटर तक गहरे ट्यूबवेल के लिए 328 रुपये प्रति मीटर की दर से ज्यादातर 35,000 रुपये अनुदान देगी. वहीं 100 मीटर तक गहरे ट्यूबवेल के लिए 597 रुपये प्रत्तेक मीटर की दर से ज्यादातर 70,000 रुपये अनुदान देगी.
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का सबसे ज्यादा फायदा बिहार के उन किसानों को मिलेगा जो आर्थिक रूप से ट्यूबवेल बोर करने या फिर लगवाने में सक्षम नहीं हैं।
  • अब वे इस योजना का फायदे उठाकर खेती के लिए सिंचाई व्यवस्था को बेहतर बना सकेंगे।
  • किसान किसी अपनी निजी भूमि में ट्यूबवेल लगाने या फिर बोरिंग करने पर सब्सिडी प्राप्त कर सकेंगे.
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत बिहार के सरकार किसानों को उनकी कृषि भूमि पर काम करने के लिए 100 रुपये प्रति फुट से 15000 रुपये तक की सब्सिडी प्रदान करेगी।
  • इस योजना का फायदे लेने के लिए राज्य के किसानों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • यह बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना बिहार के सभी जिले में लागू है. इसलिए हर लघु सीमांत या जो आर्थिक रूप से कमजोर किसान ऑनलाइन अप्लाई कर सकता है।
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत आवेदन करने पर आपको बोरिंग पर राज्ज्य सरकार की ओर से सब्सिडी मिलेगी। ताकि आपके पास कम जमीन होने पर भी आप बोरिंग कर सकें और अपने खेतों की सिंचाई अच्छे से कर सकें.

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लाभार्थी

इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लाभार्थी बिहार राज्य के छोटे और जो सीमांत किसान हैं। हालांकि इस योजना के माध्यम से राज्ज्य सरकार अलग-अलग जातियों के हिसाब से अनुदान देगी. सभी जिले से अनुसूचित जाति से न्यूनतम 16% और फिर अनुसूचित जनजाति से 1% आवेदकों का सिलेक्शन किया जाएगा। 

अनुसूचित जनजातियों से आवेदन प्राप्त ना होने की परिस्थिति में अनुसूचित जनजातियों के लिए 16% + 1% या 17% तक एप्लीकेशन स्वीकार करने की गुंजाइश होगी। इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत राज्ज्य सरकार सामान्य वर्ग के आवेदकों को 50% अनुदान, पिछड़ा और अति पिछड़ा वर्ग के आवेदकों को 70% अनुदान और अनुसूचित जाति/जनजाति के आवेदकों को 80% अनुदान प्रदान करेगी।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का बजट

बिहार सरकार ने सिचाई में किसानों को सहायता देने के लिए बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजनाओं के लिए सब्सिडी योजना लागू की है। अभी के समय में ट्यूबवेल की बोरिंग के लिए 100 रुपये प्रत्तेक फुट की दर से 30,000 रुपये की सब्सिडी है. हालाँकि, बिहार के जल संसाधन विभाग ने माना है कि लगभग 1,20,000 रुपये की वास्तविक लागत को देखते हुए यह राशि अपर्याप्त है। 

नतीजतन, बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए सब्सिडी बढ़ाकर 35,000 रुपये कर दी जाएगी। बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए किसानों को अपने ट्यूबवेल की गहराई बताते हुए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। गहराई के आधार पर सब्सिडी अलग-अलग होती है: 70 मीटर तक की गहराई के लिए 15,000 रुपये तक और मध्यम गहराई के ट्यूबवेल के लिए अधिकतम 35,000 रुपये। 

अनुदान दरें उथले बोरवेल के लिए 100 रुपये प्रति फुट और मध्यम गहराई के ट्यूबवेल के लिए 182 रुपये प्रति फुट निर्धारित की गई हैं। इसके अतिरिक्त, सरकार मोटर पंप सेट के लिए सब्सिडी प्रदान करती है, अधिकतम राशि 50 प्रतिशत या 10,000 रुपये, जो भी कम हो, तय करती है। सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए किसानों को एक सीधी प्रक्रिया का पालन करना होगा। 

उन्हें ऑनलाइन आवेदन करना होगा, आवश्यक प्रमाणपत्रों के साथ दावा जमा करना होगा और नामित इंजीनियरों की सहायता से 15 दिनों के भीतर बोरिंग पूरा करना होगा। किसान के साथ जांच अधिकारी की तस्वीर अपलोड की जानी चाहिए, और अनुदान स्वीकृत करने के लिए निर्दिष्ट सामग्री की गुणवत्ता मानकों के अनुरूप होनी चाहिए। 

बोरिंग कार्य पूरा होने और पंप सेट की खरीद के आधार पर, कार्यकारी अभियंता की सिफारिश के बाद एक सप्ताह के भीतर किसान के खाते में प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (DBT) के माध्यम से अनुदान वितरित किया जाता है। यदि स्थापना 45 दिनों के भीतर पूरी नहीं होती है, तो आवेदक को ऑनलाइन स्पष्टीकरण देना होगा। किसान को विशिष्टताओं के पालन के लिए एक प्रमाण पत्र प्राप्त होता है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना कब लागू हुई

इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के माध्यम से फायदे के लिए एप्लीकेशन  की जानकारी एक ऑफिसियल नोटिस जारी करके दी जाती है। इस योजना के तहत आवेदन शुरू होने की तारीखें नीचे विस्तृत दी गयी हैं।

  • सरकारी नोटिस जारी होने की तारीख:- 11/12/2023
  • आवेदन की आखरी तारीख:- 31 जनवरी, 2024
  • आवेदन प्रारंभ तिथि :- आवेदन प्रारंभ हो चुका है।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना की पात्रता

  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का लाभ सिर्फ बिहार के जो किसान लोग है उनको ही दिया जायेगा।
  • इस योजना के लिए सिर्फ बिहार राज्ज्य के स्थायी निवासी किसान ही अप्लाई कर सकते हैं।
  • इस योजना के तहत फायदे लेने के लिए आवेदक के पास कम से कम 40 डिसमिल वूमि होनी जरूरी है।
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए पात्र आवेदकों के पास अपना पहचान पत्र होना जरूरी है।
  • बिहार राज्ज्य के किसानों को प्रगतिशील और फिर इच्छुक होना चाहिए, तभी वे इस योजना के लिए आप पात्र होंगे। .
  • बिहार राज्ज्य के छोटे और सीमांत किसानों को प्राथमिकता दी जाएगी।
  • किसान की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए।
  • इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के माध्यम से आपको अनुदान राशि तभी मिलेगी जब आप अपने खेत में ट्यूबवेल (बोरिंग) लगवाएंगे।
  • सभी जिले में न्यूनतम 16% अनुसूचित जाति के किसान और फिर 1% अनुसूचित जनजाति के किसानों का चयन किया जाएगा।
  • यदि एसटी अनुपलब्ध है तो यह 1% एससी के 16% में जोड़ा जाएगा जो 17% होगा। 

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के जरूरी दस्तावेज

  • पैन कार्ड।
  • आधार कार्ड
  • राशन पत्रिका।
  • ईमेल आईडी।
  • आय प्रमाण पत्र.
  • मोबाइल नंबर
  • जमीन दस्तावेज।
  • आवास प्रमाण पत्र।
  • बैंक खाता पासबुक.
  • भूमि किराया प्रमाणपत्र (LPC)।
  • स्व-घोषणा पत्र/शपथ पत्र।
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाणपत्र
  • एलपीसी.
  • किसानों का पंजीकरण.
  • भूमि विवरण 
  • कृषि भूमि के दस्तावेज/प्रमाणपत्र।
  • आवेदक का पासपोर्ट आकार का फोटो।
  • जाति प्रमाण पत्र   

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना official Website

Click Here

Bihar Shatabdi Niji Nalkup Yojana 2023 apply online

  • सबसे पहले आपको इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा  (https://mwrd.bih.nic.in/) । जहां से आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। या फिर आप निचे दिए लिंक पर क्लिक करके आवेदन कर सकते है। 
निजी नलकूप योजना 1
  • इस लिंक में क्लिक करके आप सीधे वेबसाइट पे रेडिरेक्ट हो जायेंगे । (https://mwrd.bih.nic.in/mnny/OpenApplication.aspx)
निजी नलकूप योजना 2
  • इसके बाद आपके सामने एक आवेदन पत्र ओपन हो जाएगा, जहा आपको इस आवेदन पत्र को ध्यान से भरना होगा। 
निजी नलकूप योजना 3
  • फिर LPC विवरण दर्ज करने के बाद, आपको इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए जरूरी सभी दस्तावेज अपलोड करने होंगे, टिक वाले ऑप्शन में क्लिक करना होगा।
  • फिर आपके सामने इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए आपके द्वारा भरा गया फॉर्म आ जाएगा। अब इसका सही से मिलान करने के बाद फाइनल फॉर्म सबमिट कर दें
  • इस प्रकार आप आसानी से बिहार बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं और लाभ उठा सकते हैं

FAQ

नलकूप योजना क्या है?

इस बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के तहत सामान्य श्रेणी के सभी किसानों को 50% अनुदान मिलने का वादा किया गया है, जबकि पिछड़ा और जो अति पिछड़ा वर्ग के किसानों है उनको 70% अनुदान मिलेगा और जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति है उन किसानों को 80% अनुदान दिया जायगा. सिर्फ इतना ही नहीं, यह जो सब्सिडी है वो कम से कम 70 मीटर तक के 4-6 इंच व्यास वाले ट्यूबवेलों में ही लागू होगी।

Bharat Sarkar suvidha Home pageClick here
Join Our Telegram Channel.Click here
Bharat sarkar Suvidha Official Whatsapp ChannelClick here
जानिए अन्य सरकारी योजनाओं के बारे मेंClick here
अगर आप कम पैसे में बिजनेस शुरू करने के बारे में जानना चाहते हैंClick here
 latest newsClick here
 Join our Facebook pageClick here
Join our whats app groupClick here

Leave a Comment