Mukhyamantri Sukhad Yojana Jharkhand 2023 | मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Mukhyamantri Sukhad Yojana Jharkhand 2023: इस आर्टिकल में आपको बताएंगे Mukhyamantri Sukhad Yojana Jharkhand क्या है, और इसका लाभ कैसे ले

Mukhyamantri Sukhad Yojana Jharkhand kya hai

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की शुरुआत की। राज्य के 22 जिलों के 226 ब्लॉक (पूर्वी सिंहभूम और सिमडेगा को छोड़कर) को सरकार ने 29 अक्टूबर को सूखा घोषित कर दिया है.

राज्य में सूखे की स्थिति को देखते हुए किसान परिवार को 3500 रुपये दिए जाएंगे, मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत तत्काल सूखा राहत के लिए 22 जिलों के 226 प्रखंडों को. इन 226 प्रखंडों के सभी प्रभावित किसान परिवारों को यह पैसा जल्द ही उपलब्ध करा दिया जाएगा.

कृषि विभाग की सूखा आकलन रिपोर्ट के अनुसार राज्य के 22 जिलों के 226 प्रखंड सूखे से प्रभावित हैं. ऐसी स्थिति में राज्य सरकार की यह नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि वह प्रभावित कृषक परिवारों को तत्काल सूखा राहत प्रदान करे।

Mukhyamantri sukha rahat yojana ka uddeshya

झारखंड के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन की मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की शुरूआत का मुख्य उद्देश्य राज्य के कृषक परिवारों को फसल क्षति होने की स्थिति में आर्थिक सहायता प्रदान करना है. राज्य के किसानों को सूखा राहत के लिए 3500 रुपये का भुगतान किया जायेगा.

प्रभावित किसानों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए जल्द ही गांव और पंचायत स्तर पर शिविर लगाए जाएंगे। इस योजना से राज्य के 30 लाख से अधिक किसान परिवार लाभान्वित होंगे। राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के लिए केंद्र सरकार से आर्थिक सहायता मांगी है। ताकि राज्य के किसानो को इस योजना के तहत लाभ मिल सके।

mukhyamantri sukha rahat yojana ke fayde

  • झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की शुरुआत की।
  • राज्य में सूखे की स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री सुखद राहत योजना के तहत 22 जिलों के 226 प्रखंडों के कृषक परिवारों को तत्काल सूखा राहत के लिए 3500 रुपये प्रदान किये जायेंगे.
  • इन 226 प्रखंडों के सभी प्रभावित किसान परिवारों को यह पैसा जल्द ही उपलब्ध करा दिया जाएगा.
  • प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल क्षति के मामले में किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यह योजना झारखंड सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के जगा पर शुरू की गई है।
  • राज्य के किसानों को होने वाले नुकसान की राशि का भुगतान बीमा कंपनी द्वारा इस योजना के तहत पंजीकृत किसानों को किया जाएगा।
  • प्रभावित किसानों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए जल्द ही गांव और पंचायत स्तर पर शिविर लगाए जाएंगे।
  • इस योजना का लाभ उन किसानों को मिलेगा जिन्होंने इस वर्ष बुवाई नहीं की है या जिनकी फसल 33% से अधिक खराब हो चुकी है।
  • कोई भी किसान जो इस योजना का लाभ लेना चाहता है उसे इस योजना के तहत पंजीकरण कराना होगा।
  • मुख्यमंत्री सूखा राहत योजना माध्यम से किसानों की आत्मनिर्भरता बढ़ेगी।
  • झारखंड सरकार ने वित्त ज्ञापन के तहत केंद्र से 9682 करोड़ रुपये की राहत सहायता मांगी है.
  • इस योजना के तहत राज्य के किसान लाभान्वित हो सकते हैं।
Bharat Sarkar suvidha Home pageClick here
जानिए अन्य सरकारी योजनाओं के बारे मेंClick here
अगर आप कम पैसे में बिजनेस शुरू करने के बारे में जानना चाहते हैंClick here
Follow us on Google news.Click here
 latest newsClick here
 Join our Facebook pageClick here
Join our whats app groupClick here

Leave a Comment