Pashudhan Bima Yojana 2022 : दुधारू पशु के मौत पर मिलेगा 80 हजार रुपये

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Pashudhan Bima Yojana : सरकार अपने किसानों को डेयरी पशुओं के लिए बीमा सुविधा प्रदान करने का निर्णेय ले लिया है। इस बीमा का प्रीमियम 25 से 300 रुपए है। इस योजना के तहत अगर पशु की मौत होती है तो अधिकतम मुआवजा 88 हजार रुपये सर्कार देगी ।

कृषि के अलावा, पशुपालन भी भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में आजीविका का मुख्य स्रोत है। ऐसे में यदि डेयरी पशु जानलेवा बीमारियों से मर जाते हैं तो किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ता है। इस समय उनके सामने रोजी-रोटी का संकट भी प्रकट हो गया। ऐसे में पशुपालकों के लिए चलाई जा रही बीमा योजना किसानों के लिए काफी फायदेमंद हो सकती है.

पशुधन बीमा योजना के तहत किन पशुओं का बीमा किया जाएगा

हरियाणा सरकार अपने किसानों को डेयरी पशुओं के लिए बीमा सुविधा प्रदान कर रही है। इस बीमा का प्रीमियम 25 से 300 रुपए है। इसके तहत 25 हजार रुपये से लेकर 300 रुपये तक के बीमा प्रीमियम की भरपाई अधिकतम 88 हजार रुपये तक की जाएगी। 

इसके तहत अगर पशु की मौत होती है तो अधिकतम मुआवजा 88 हजार रुपये तक होगा। बड़े जानवरों के मामले में, गाय, भैंस, बैल, बैल (प्रजनन के लिए), घोड़े, ऊंट, गधे, खच्चर और बैल का बीमा किया जा सकता है।

जबकि छोटे जानवरों में भेड़, बकरी, खरगोश और सूअर का बीमा किया जाता है। प्रत्येक परिवार 5 cattle unit बीमा प्राप्त कर सकता है। एक पशुधन unit का अर्थ है एक बड़ा जानवर या 10 छोटे जानवर। 

पशुधन बीमा योजना में कितना प्रीमियम देना होगा

राज्य सरकार के मुताबिक अनुसूचित जाति के पशुपालकों का बीमा फ्री होगा. वहीं, अन्य श्रेणियों को अपने डेयरी पशुओं की दुग्ध उत्पादन क्षमता के आधार पर प्रीमियम का भुगतान करना होता है।

यह प्रीमियम 100/200/300 रुपये भी हो सकता है। छोटे पशुओं का बीमा मात्र 25 रुपए प्रति पशु प्रति वर्ष के हिसाब से कराया जा सकता है। 

पशुधन बीमा योजना की नीति क्या है

इस योजना के तहत बीमित पशुओं की आकस्मिक और आकस्मिक मृत्यु को कवर किया जाता है। बीमा के शुरुआती 21 दिनों के भीतर पशु की आकस्मिक मृत्यु को कवर किया जाएगा। इस समय गौ पालकों को पुलिस को सूचना देना अनिवार्य होगा। 21 दिनों के बाद दुर्घटना मृत्यु बीमा बीमा शुरू हो जाएगा।

योजना के तहत गायों के लिए अधिकतम 83000 रुपये और भैंसों के लिए अधिकतम 88000 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। छोटे पशुओं (बकरी, भेड़, सुअर आदि) का अधिकतम मूल्य 10000 रुपये होगा

Bharat Sarkar Suvidha Home pageClick here
More updateClick here
Join our Facebook pageClick here
Join our WhatsApp groupClick here

Leave a Comment