PMEGP Loan Ke Liye Kaise Apply Kare 2024 (Easy 50 lakh Loan) | प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

PMEGP Loan Ke Liye Kaise Apply Kare: इस जानकारी के साथ साथ हमने प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना क्या है, फायदा, आवेदन की प्रक्रिया, कितना ब्याज दर मिलेगा इन सबके बारे में बताया है।

पीएमईजीपी लोन स्कीम क्या है

लोगों की इच्छाएं और व्यापार करने के तरीके समय के साथ बदल रहे हैं। अब कोई भी अपना व्यापार शुरू करना चाहता है। लेकिन यदि आप चाहते हैं तो क्या होगा? जिनके पास पैसा है, वे व्यापार शुरू कर सकते हैं। लेकिन जिनके पास पैसा नहीं है, लेकिन पैसे का इंतजार नहीं कर सकते, और पैसे की कोई सहायता करने वाला भी नहीं है, उनके बारे में भारत सरकार ने इस बारे में सोचकर यह कदम उठाया है।

हमारे देश के प्रधानमंत्री ने देश में रहने वाले गरीब और बेरोजगार लोगों को रोजगार प्राप्त करने के लिए विभिन्न सरकारी ऋण प्रदान करते हैं। और इन ऋणों में से एक है प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना (पीएमईजीपी ऋण)। भारत सरकार ने लोगों को ऋण के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री के रोजगार उत्पन्न कार्यक्रम की शुरुआत की है। लेकिन फिर यह आपके लिए एक महत्वपूर्ण संदेश है। 

केंद्र सरकार इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत लाभार्थियों को व्यापार ऋण प्रदान करेगी और ऋणों को भी सब्सिडीज़ करेगी। तो वे जो पूंजी की कमी के कारण अपना व्यापार शुरू नहीं कर सकते हैं, वे अब व्यापार कर सकते हैं। इस पीएमईजीपी ऋण का मुख्य उद्देश्य छोटे और मध्यम आकार के व्यापारों को शुरू और बढ़ाने के लिए पर्याप्त पूंजी प्रदान करना है। पीएमईजीपी परियोजना भारत सरकार की योजना के तहत काम करती है। 

यदि आप अपना व्यापार शुरू करना चाहते हैं, तो सरकार सीधे आपको आपके व्यापार के लिए 50 लाख रुपये का पूर्ण ऋण प्रदान करेगी। ताकि आप सभी लाभान्वित हो सकें। इस ऋण के माध्यम से केंद्र सरकार गरीब और बेरोजगार लोगों को रोजगार प्राप्त करने में मदद करेगी। क्या आप भी अब पीएमईजीपी ऋण के लिए ऑनलाइन आवेदन करेंगे? लेकिन जिन्होंने इस ऋण के लिए आवेदन करना है, उन्हें अपनी पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा और आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने होंगे।

 ताकि आपको कोई समस्या न आए। और फिर आप आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। हम आपको विस्तार से इसका तरीका बताएंगे। यदि आप भी चाहते हैं कि आप इस सरकार की इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के माध्यम से घर बैठे 50 लाख रुपये तक का सीधा व्यक्तिगत ऋण प्राप्त करें, तो कृपया इस लेख को ध्यानपूर्वक आखिर तक पढ़ें।

योजना का नाम :   प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम। 

पीएमईजीपी लोन क्या है

18 साल और उससे ज्यादा आयु के व्यक्ति जिन्होंने प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना (PMEGP) के तहत कम से कम 8वीं क्लास उत्तीर्ण की हो। वे अपना स्वयं का सूक्ष्म उद्यम शुरू करने के लिए ऋण के पात्र हैं। PMEGP छोटे और फिर मध्यम उद्यमों को आर्थिक सहायता प्रदान करने वाली एक क्रेडिट योजना है। यह एक ऋण योजना है जो उन लोगों के लिए उपयुक्त है जो नया व्यवसाय खोलना चाहते हैं। 

यह प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना उप-कृषि क्षेत्र को छोड़कर प्रत्तेक क्षेत्रों के लिए उपलब्ध है। यह कार्यक्रम MSME मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया एक क्रेडिट-लिंक्ड सब्सिडी कार्यक्रम है। इसका उद्देश्य ग्रामीण और फिर शहरी क्षेत्रों में पारंपरिक कारीगरों और फिर बेरोजगार युवाओं का समर्थन करना और गैर-कृषि क्षेत्र में छोटे उद्यम स्थापित करके स्वरोजगार के अवसर पैदा करना है। 

इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के जरिए कोई भी 10 लाख रुपये तक का लोन ले सकता है और फिर अपने बिजनेस के सपनों को उड़ान दे सकता है. इसके अलावा इस योजना के तहत ऋण पर 25% से 35% तक सब्सिडी भी प्रदान की जाएगी। हालाँकि, खादी और फिर ग्रामीण उद्योग आयोग (KVIC) ने राष्ट्रीय स्तर पर नोडल एजेंसी के रूप में कार्य करते हुए इस योजना को शुरू किया है। 

यह प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना राज्य खादी और फिर ग्रामोद्योग आयोग निदेशालय, राज्य खादी और ग्रामोद्योग बोर्ड, जिला उद्योग केंद्र और राज्य सभी बैंकों द्वारा कार्यान्वित की जाती है। यह कार्यक्रम ग्रामीण और फिर शहरी दोनों क्षेत्रों में रोजगार के अवसर पैदा करने में सक्षम है। 

पीएमईजीपी लोन योजना क्या है

योजना का नामPMEGP Loan (प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना)
योजना का पूरा नामPrime Minister’s Employment Generation Programme.
कब शुरू हुआ    2024 
किसने शुरू कियाप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.
किसके देख रेख मेंकेंद्र सरकार.
योजना प्रशासन एजेंसीखादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC)
कैटेगरीप्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (PMEGP) लोन योजना।
उद्देश्यरोजगार सृजन एवं स्वरोजगार हेतु नई इकाइयों को ऋण।
लाभ35% तक सब्सिडी के साथ 50 लाख रुपये तक का ऋण।
लाभार्थीजो व्यापारी देश में नया व्यापार शुरू कर रहे हैं। 
आवेदन की फीसमुक्त करने के लिए
लोन की राशि50 लाख। 
योजना पूर्ण होने की प्रस्तावित अवधि2025-26
PMEGP संशोधित दिशानिर्देश लागू 01st June 2022 
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन।
हेल्पलाइन नंबरआर्टिकल पढ़कर आपको पता चल जाएगा.
ईमेलआर्टिकल पढ़कर आपको पता चल जाएगा.
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://kviconline.gov.in/

पीएमईजीपी लोन योजना का उद्देश्य

  • PMEGP का प्राथमिक उद्देश्य रोजगार और फिर आत्मनिर्भरता की स्थिति में सुधार करना है।
  • इस कार्यक्रम के तहत छोटे और फिर मध्यम उद्यमियों को ऋण और सब्सिडी की सुविधा दी जाती है। ताकि वे उद्यम शुरू कर सकें और समाज में रोजगार के अवसर बढ़ा सकें।
  • बैंक PMEGP के तहत नई इकाइयां स्थापित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करते हैं।
  • नया स्व-रोजगार सूक्ष्म उद्यमों या फिर परियोजनाओं की स्थापना करके भारत के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रोजगार पैदा करता है।
  • यह प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना ग्रामीण और फिर शहरी दोनों क्षेत्रों में रोजगार के अवसर देती है।
  • कारीगरों की आय अर्जन क्षमता बढ़ाने तथा ग्रामीण एवं ठोस रोजगार का मूल्य बढ़ाने के प्रति जागरूकता।
  • राज्ज्य सरकार ने हर ग्रामीण और फिर कंक्रीट क्षेत्र में व्यापक रूप से फैले हुए पारंपरिक कारीगरों और जो बेरोजगार युवाओं है उनको एक साथ लाने और फिर स्वरोजगार के रास्ते बनाने के लिए इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना की शुरुआत की।
  • पारंपरिक और फिर भावी कारीगरों के एक बड़े वर्ग के साथ-साथ बेरोजगार युवाओं को निरंतर और टिकाऊ रोजगार देने के लिए ग्रामीण युवाओं के शहरी क्षेत्रों में प्रवास को रोकना।
  • PMEGP के तहत उद्यमियों को आसानी से लोन प्राप्त करने के लिए संबंधित बैंकों से सहायता मिलती है। इसके लिए किसी भी फिक्स्ड डिपॉजिट या गारंटी की जरूरत नहीं है.
  • सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी और अन्य कोई आर्थिक सहायता के कारण उद्यमियों को ज्यादा मात्रा में पूंजी मिल सकती है, जिससे उन्हें अपना बिज़नेस शुरू करने का साहस मिलता है।
  • PMEGP नए उद्यमों की शुरुआत के माध्यम से रोजगार के अवसर बढ़ाने में योगदान देता है। परिणामस्वरूप, समाज में रोजगार की स्थिति में सुधार होता है।
  • इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत छोटे और जो मध्यम उद्यमों है उनको अनुकूल ब्याज दरों पर लोन और सब्सिडी मिलती है।

पीएमईजीपी लोन से क्या फायदा है

  • PMEGP लोन 2024 के तहत रोजगार दरें पूरे देश में फैली हुई हैं।
  • इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना का उद्देश्य सूक्ष्म, लघु और फिर मध्यम स्तर के उद्यमियों को रोजगार के अवसर प्रदान करना है।
  • इस योजना के सहायता से आप न केवल स्वरोजगार कर सकेंगे बल्कि आत्मनिर्भरता को विकसित कर सकेंगे।
  • अगर आप अपना निजी और फिर बेहतर भविष्य बनाना चाहते हैं तो PMEGP लोन आपके लिए उपयुक्त है।
  • PMEGP योजना 2024 के तहत, इसका लक्ष्य पहली बार देश में बेरोजगारी को खत्म करना है।
  • यह प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना 2024 तक देश में बेरोजगारी की सभी समस्या को खत्म कर देगी।
  • इस PMEGP लोन 2024 के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद आप सभी अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए 50 लाख रुपये का पूरा लोन प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के माध्यम से लोन की परिमाण 2 से 10 लाख तक हो सकती है।
  • इस योजना के माध्यम से प्राप्त लोन पर ग्रामीण क्षेत्रों में 35% और फिर शहरी क्षेत्रों में 25 प्रतिशत तक सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  • इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत बांटे जाने वाले लोन पर सब्सिडी नियमानुसार होगी और फिर यह सब्सिडी अलग-अलग श्रेणी के व्यक्तियों के लिए अलग-अलग हो सकती है।
  • इस योजना के लाभार्थियों में देश के वे सभी युवा और फिर उद्यमी शामिल हैं जो अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने में रुचि रखते हैं।
  • केंद्र सरकार की इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत देश के गरीबी रेखा से नीचे और सभी बेरोजगार लोगों को बिज़नेस करने के लिए रोजगार के उद्देश्य से लोन दिया जाएगा।
  • इस परियोजना के लाभार्थी देश के युवा और फिर बिज़नेस होंगे जो अपना खुद का बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं।
  • आज के बेरोजगार युवा PMEGP लोन 2024 के तहत लोन प्राप्त करके अपना खुद का बिज़नेस स्थापित कर सकेंगे।
  • प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के माध्यम से वितरित लोन पर नियमानुसार सब्सिडी दी जाएगी। जो अलग-अलग वर्ग के लोगों के लिए अलग-अलग होगा.
  • बिज़नेस कौशल प्रशिक्षण पूरा करने के बाद, आवेदकों को नया बिज़नेस शुरू करने के लिए उनके बैंक अकाउंट में लोन राशि प्राप्त होगी।
  • यह प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना लोन की राशि पर ज्यादातर सब्सिडी प्रदान करके महिलाओं और फिर अल्पसंख्यकों और SC, ST वर्गों के बीच उद्यमिता को बढ़ावा दे रही है।
  • अंततः, आप सभी अपना उज्ज्वल और टिकाऊ भविष्य आदि बनाने में सक्षम होंगे।

पीएमईजीपी लोन योजना के लाभार्थी

यह आर्टिकल पाठकों का PMEGP लोन 2024 के बारे में जानने के लिए स्वागत करता है, जो प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना (PMEGP) के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करता है। आर्टिकल में पात्रता मानदंड शामिल हैं, जिसमें निर्दिष्ट किया गया है कि युवा उद्यमी 1 लाख रुपये तक के व्यावसायिक लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना का मुख्या उद्देश्य ऑनलाइन आवेदन के बाद व्यवसाय शुरू करने के लिए 50 लाख रुपये तक का लोन देकर बेरोजगारी की समस्या का समाधान करना है। 

लेख इस बात पर जोर देता है कि PMEGP योजना 2024 न केवल स्वरोजगार को बढ़ावा देती है बल्कि आत्मनिर्भरता को भी बढ़ावा देती है और एक उज्जवल और फिर टिकाऊ भविष्य के निर्माण में योगदान देती है। यह पाठकों को ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पर मार्गदर्शन प्रदान करते हुए, योजना की विशेषताओं और लाभों की व्यापक समझ के लिए आर्टिकल पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करता है 

नए आवेदकों के लिए

PMEGP लोन योजना के तहत आपको 1000 से ज्यादा तरह के बिजनेस लोन ऑफर किए जाते हैं। इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत ज्यादातर लोन राशि बिज़नेस के प्रकार के अनुसार तय की जाती है। इस योजना के तहत पहली बार विनिर्माण क्षेत्र से जुड़ी परियोजनाओं के लिए ज्यादातर 50 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है. जहां बिज़नेस एवं सेवा क्षेत्र से संबंधित इकाइयां स्थापित करने के लिए ज्यादातर 20-25 लाख रुपये का लोन दिया जाता है. 

इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के अंतर्गत सामान्य वर्ग के आवेदकों को कुल परियोजना लागत का 90% लोन दिया जाता है तथा शेष 10% राशि आवेदक को स्वयं वहन करनी होती है। विशेष श्रेणी के आवेदकों को परियोजना की कुल लागत का 95% लोन मिलता है लेकिन शेष 5% स्वयं खर्च करना होता है। विशेष श्रेणी के अंतर्गत SC, ST, OBC, अल्पसंख्यक, महिलाएं, भूतपूर्व सैनिक, ट्रांसजेंडर, विकलांग, पहाड़ी एवं सीमावर्ती क्षेत्र तथा भारत सरकार द्वारा निर्धारित आकांक्षी जिलों के आवेदक शामिल हैं।

प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना

पीएमईजीपी लोन की ब्याज दर कितनी है?

PMEGP योजना के तहत दी जाने वाली इंटरेस्ट रेट और फिर सब्सिडी भी आर्थिक संस्थान से लोन समूह में भिन्न हो सकती हैं। यह आवेदक के दस्तावेजों, क्रेडिट योग्यता, भुगतान क्षमता और फिर पूरे उपक्रम की दर पर निर्भर करता है। PMEGP के तहत लोन SBI, बैंक ऑफ बड़ौदा, केनरा और फिर बैंक ऑफ इंडिया के साथ-साथ अन्य निजी और फिर सार्वजनिक तिमाही बैंक/ऋण संस्थानों द्वारा वितरित किए जाते हैं। PMEGP के माध्यम से लिए गए लोन पर आमतौर पर 11% से 12 % की इंटरेस्ट रेट पर लोन भुगतान करना पड़ता है। और लोन चुकाने की अवधि 3 साल से 7 साल है।

अगर आप केंद्र सरकार द्वारा दिए जाने वाले इस पर्सनल लोन को पाना चाहते हैं तो आप इसकी ऑफिसियल  वेबसाइट पर आसानी से अप्लाई कर सकते हैं। लेकिन आवेदन करने से पहले आपको इसकी इंटरेस्ट रेट की जानकारी जरूर जान लेनी चाहिए। ताकि आपको किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े। यह न्यूनतम इंटरेस्ट रेट सरकार द्वारा लोन राशि पर तय की जाएगी। जो लोन मिलने और सब्सिडी राशि माफ होने के बाद बढ़ जाएगी।

Pmegp के अंतर्गत कौन सा व्यवसाय आता है?

PM Employment Generation Programme के तहत 1056 विभिन्न प्रकार के बिज़नेस शुरू करने के लिए लोन दिया जाता है। इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत बिज़नेस का नाम और फिर प्रति इकाई अनुमत ज्यादातर परियोजना लागत जानने के लिए, ऑफिसियल वेबसाइट के होमपेज पर प्रोजेक्ट डाउनलोड लिंक पर क्लिक करें। इन सभी स्वीकृत व्यावसायिक नामों, परियोजना रिपोर्टों और लागत सूची को सीधे ऑफिसियल वेबसाइट पर देखें। 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

pmegp loan eligibility in hindi

  • सभी आवेदकों की इनकम 18 साल या उससे ज्यादा होनी चाहिए।
  • सभी आवेदकों को कम से कम 8वीं क्लास उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • आवेदक को भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • इस योजना के माध्यम से बिज़नेस के लिए ली गई जमीन पर कोई लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • इसके अलावा आवेदक के पास आधार उद्योग होना चाहिए।
  • आवेदक के पास मोबाइल नंबर और फिर ईमेल आईडी होनी चाहिए.
  • सभी आवेदकों के पास अपना आधार कार्ड होना चाहिए।
  • जो लोग अपना खुद का बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं वे इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के माध्यम से लोन ले सकते हैं।
  • सभी आवेदकों को अपनी सभी जानकारी प्रमाणित करना जरूरी है।
  • PMEGP के तहत परियोजनाएं स्थापित करने में सहायता के लिए कोई आय सीमा नहीं होगी।
  • मौजूदा इकाइयाँ और फिर इकाइयां जिन्हें पहले से ही कोई सरकारी सब्सिडी (PMRY, REGP, PMEGP, CMEGP या भारत या राज्य सरकार की किसी अन्य योजना के तहत) प्राप्त हुई है, पात्र नहीं हैं।
  • इस परियोजना लागत के अंतर्गत भूमि की लागत शामिल नहीं की जा सकती।
  • सभी कार्यान्वयन एजेंसियां ​​(KVIC, KVIB, DIC और Coir बोर्ड) ग्रामीण और फिर शहरी दोनों क्षेत्रों में आवेदन संसाधित कर सकती हैं।
  • इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत सहायता केवल PMEGP के तहत विशेष रूप से अनिवार्य नए बिज़नेस पर लागू होती है।
  • जो लोग अपना खुद का बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं उन्हें इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के माध्यम से ऋण मिल सकता है।
  • PMEGP योजना के तहत लोन स्वीकृत बिज़नेस के लिए उपलब्ध होगा, किसी अन्य बिज़नेस के लिए नहीं।
  • इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना में स्वीकृत कार्यों के लिए ही लोन उपलब्ध कराया जायेगा।
  • पूंजीगत व्यय (सावधि लोन) के बिना परियोजनाएं पात्र नहीं हैं।
  • यदि किसी ने इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत किसी भी सरकारी सब्सिडी का फायदा उठाया है तो वे इस योजना के तहत पात्र नहीं होंगे।
  • SC/ST वर्ग, महिला, पीएच, पूर्व सैनिक और अन्य आरक्षित श्रेणियों के उम्मीदवारों को ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादातर 35% सब्सिडी और फिर शहरी क्षेत्रों में 25% सब्सिडी मिलेगी।
  • केवल निर्माण क्षेत्र के लिए 10 लाख रुपये से ज्यादा और बिज़नेस/सेवा क्षेत्र की इकाई के लिए 5 लाख रुपये से ज्यादा का लोन
  • अगर आप प्रोजेक्ट मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगा रहे हैं तो ज्यादातर 50 लाख रुपये के लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं, लेकिन सर्विस सेक्टर से जुड़ी परियोजनाओं के लिए अधिकतम 20-25 लाख रुपये का लोन मिलेगा.
  • व्यवसाय पर कितना खर्च हुआ इसका पूरा विवरण।

पीएमईजीपी लोन के लिए कौन पात्र है

  • व्यवसाय के मालिक और उद्यमी।
  • स्वयं सहायता समूह और धर्मार्थ ट्रस्ट।
  • उत्पादन सहकारी समितियाँ।

इस लोन को प्राप्त करने के लिए कोई भी आय सीमा नहीं है। PMEGP लोन नए संस्थानों को आसानी से वितरित किए जाते हैं। यह PMEGP, REGP, या किसी अन्य प्राधिकरण योजना के तहत स्थापित मौजूदा संगठनों के लिए हमेशा उपलब्ध नहीं होता है। इसके अलावा, कोई भी व्यावसायिक उद्यम जिसने किसी अन्य योजना के तहत सब्सिडी का फायदा उठाया है, वह PMEGP लोन के लिए पात्र नहीं है। अगर कोई आवेदक सेवा इकाई के लिए 10 लाख रुपये का ऋण प्राप्त करना चाहता है। एक विनिर्माण इकाई के लिए 25 लाख, तो उनकी आयु 18 वर्ष से अधिक और 8वीं पास होनी चाहिए।

pmegp लोन के लिए दस्तावेज़

  • आधार कार्ड,
  • कास्ट सर्टिफिकेट,
  • पैन कार्ड,
  • परियोजना रिपोर्ट,
  • शैक्षिक योग्यता का प्रमाण पत्र,
  • क्षेत्र प्रमाणपत्र,
  • बैंक पासबुक.
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर।
  • आप जो व्यवसाय शुरू कर रहे हैं उसकी प्रोजेक्ट रिपोर्ट।
  • मशीनों एवं अन्य वस्तुओं की खरीद पर अनुमानित व्यय का विवरण।
  • इकाई स्थापित करने की अनुमानित लागत।
  • इकाई स्थापित करने के लिए प्रस्तावित भूमि का स्वामित्व या किरायेदारी विलेख।
  • जाति प्रमाण पत्र.
  • ग्रामीण क्षेत्र प्रमाणपत्र (यदि लागू हो)
  • कौशल विकास कार्यक्रम या ईडीपी प्रशिक्षण से प्रमाण पत्र।
  • श्रेणी प्रमाणपत्र
  • राजकीय निवास
  • मोबाइल नंबर
  • व्यापार की योजना
  • आवेदक की पहचान और पते का प्रमाण
  • एससी/एसटी/ओबीसी/अल्पसंख्यक/भूतपूर्व सैनिक/पीएचसी प्रमाणपत्र
  • अंतिम योग्यता मार्कशीट
  • 8वीं पास का प्रमाण पत्र
  • शैक्षणिक एवं तकनीकी पथ प्रमाणपत्र। अगर वहाँ होता

Online Portal / Official Website

Click Here

पीएमईजीपी लोन के लिए कौन पात्र नहीं है?

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम का फायदा लेने के लिए कुछ शर्तों को पूरा करना जरूरी है। जैसे- इस प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना का फायदा उठाने के लिए आपकी आयु 18 वर्ष से ज्यादा होनी चाहिए और नया बिज़नेस शुरू करना चाहिए। जो लोग 5 लाख से 10 लाख से ज्यादा का लोन लेना चाहते हैं उन्हें 8वीं क्लास पास होना जरूरी है. हालाँकि, यह जाँच की जानी चाहिए कि क्या केंद्र या फिर राज्य सरकार की किसी अन्य योजना या केंद्र या राज्य सरकार से सब्सिडी का लाभ मिल रहा है। ऐसे लोग इस योजना के पात्र नहीं हैं।

PMEGP Loan Ke Liye Kaise Apply Kare

  • सबसे पहले आपको PMEGP के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
Kaise Apply Kare
  • उसके बाद आपको PMEGP लिखा हुआ दिखाई देगा उस पर क्लिक करना होगा 
  • इसके बाद यहाँ आपको “Apply” लिखा हुआ दिखाई देगा उसके ऊपर आपको  करना होगा
Kaise Apply Kare 1
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र जैसा कुछ ओपन होगा जो इस प्रकार होगा
2
  • अब इस आवेदन पत्र को पढ़कर सही से भरे। 
  • अब submit ऑप्शन में क्लिक करे 

पीएमईजीपी लोन कैसे प्रोसेस करें?

इसके के लिए आपको PMEGP के ऑफिसियल वेबसाइट में जाना होगा, वह से आपको आवेदन करना होगा।

पीएमईजीपी लोन की प्रक्रिया क्या है

सबसे पहले आपको PMEGP के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
उसके बाद आपको PMEGP लिखा हुआ दिखाई देगा उस पर क्लिक करना होगा 
इसके बाद यहाँ आपको “Apply” लिखा हुआ दिखाई देगा उसके ऊपर आपको  करना होगा
इसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र जैसा कुछ ओपन होगा जो इस प्रकार होगा
अब इस आवेदन पत्र को पढ़कर सही से भरे। 
अब submit ऑप्शन में क्लिक करे 

What is the maximum project cost allowed under PMEGP ?

विनिर्माण इकाई के लिए 25.00 लाख और फिर सेवा यूनिट के लिए रु. 10.00 लाख

Bharat Sarkar suvidha Home pageClick here
Join Our Telegram Channel.Click here
Bharat sarkar Suvidha Official Whatsapp ChannelClick here
जानिए अन्य सरकारी योजनाओं के बारे मेंClick here
अगर आप कम पैसे में बिजनेस शुरू करने के बारे में जानना चाहते हैंClick here
 latest newsClick here
 Join our Facebook pageClick here
Join our whats app groupClick here

Leave a Comment