सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना 2022 | savitribai phule kishori samridhi yojana ke liye aavedan kaise kare

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

savitribai phule kishori samridhi yojana ke liye aavedan kaise kare : झारखंड सरकार राज्य में लड़कियों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए विभिन्न योजनाएं चला रही है ताकि वे बेहतर शिक्षा प्राप्त कर सकें और उनका भविष्य उज्जवल हो सके। राज्य सरकार का उद्देश्य लड़कियों की शिक्षा दर में सुधार करना और लड़कियों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी के बेटी बचाओ बेटी पराओ अभियान को भी मजबूत किया जा रहा है।

Table of Contents

इस संबंध में झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री श्री रघुबर दास जी ने 2019 में राज्य में बालिकाओं के लिए मुखिया सुकन्या योजना की शुरुआत की थी लेकिन 2022 में किसी समय इस योजना को सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना में बदल दिया गया था। इसीलिए वर्तमान में राज्य में लड़कियों को मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा, बल्कि इसके स्थान पर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना 2022 का लाभ दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की जगह लड़कियों को सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना दी जाएगी। जिसके माध्यम से आठवीं से बारहवीं कक्षा तक की लड़कियों को आर्थिक सहायता दी जाएगी। लड़कियों को यह आर्थिक सहायता बिना किसी भ्रष्टाचार के सीधे उनके बैंक खाते में मिलेगी। योजना का लाभ राज्य के कई जिलों में भी शुरू हो गया है, झारखंड के नागरिक जो योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। वह आर्टिकल को ध्यान से परे। 

इस लेख में हम “सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना 2022″ का आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड”, “उद्देश्य”, “लाभ”, “पात्रता” आदि जानेंगे। कुछ इस योजना से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी बताने जा रहे हैं जिसे पढ़कर आप आसानी से अपनी बेटी के लिए सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ उठा सकते हैं।

योजना का नाम

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना 2022

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना क्या है ?

झारखंड सरकार ने राज्य की लड़कियों के लिए सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना शुरू की है। राज्य सरकार ने आर्थिक वर्ष 2022-23 के तहत क्रियान्वित की जा रही ”मुख्यमंत्री सुकन्या योजना” को ”savitribai phule kishori samridhi yojana” से बदल दिया है।

जिसके माध्यम से 8वीं और 9वीं कक्षा में पढ़ने वाली लाभार्थी लड़कियों को 2,500 रुपये और 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली लड़कियों को 5,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। हालांकि इसका लाभ झारखंड की किशोरियों को ही मिलेगा।

यह कल्याणकारी योजना झारखंड राज्य में रहने वाली और पढ़ने वाली लड़कियों को शिक्षा से जोड़ने के लिए शुरू की गई है। जब लाभार्थी बालिका की आयु 18 वर्ष पूरी हो जाएगी, उसके बाद बालिका को 20,000 रुपये प्रदान की जाएगी।

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना 2022 के तहत राज्य के SECC-2011 की जनगणना के तहत 27 लाख परिवार और 10 लाख अंत्योदय कार्ड धारक परिवार लाभान्वित होंगे। यानी कुल 37,00,000 परिवार की लड़कियों को लाभ मिलेगा।

 ताकि लड़कियों को बिना किसी परेशानी के शिक्षा मिल सके। इससे उसका भविष्य उज्जवल होगा और वह एक बेहतर जीवन जी सकेगा। इस परियोजना के लाभार्थी बनने से झारखण्ड राज्य में बालिकाएं अपनी शिक्षा जारी रख सकेंगी, जिससे बालिकाओं के माता-पिता कम उम्र में उनका विवाह नहीं करेंगे और  बालिकाओं को आगे पढ़ने के लिए प्रेरित करेंगे। 

इसके अलावा लड़कियों को आर्थिक सहयोग भी मिलेगा। कई लड़कियां आर्थिक तंगी के कारण पढ़ नहीं पाती हैं, लेकिन इस बार लड़कियां कह रही हैं कि वे अपनी पढ़ाई नहीं छोड़ेंगी. इस परियोजना से झारखंड राज्य में लड़कियों की शिक्षा दर में भी काफी वृद्धि होगी। 

what is savitribai phule kishori samridhi yojana 2022?

झारखंड सरकार ने महिला शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना लागू की है। सावित्री बाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के तहत झारखंड राज्य सरकार आठवीं से बारहवीं कक्षा में पढ़ने वाली लड़कियों को आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

 इसके तहत लड़कियां अच्छे से अपनी पराई पूरी करेगी। जिससे बाल विवाह पर रोक लगेगी और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान को बढ़ावा मिलेगा। इस सावित्रीबाई फुले किशोरी योजना के तहत, राज्य सरकार 8th और 9th क्लास में पढ़ने वाली लाभार्थी लड़कियों को ₹ 2500 और 10th 11th और 12th क्लास में पढ़ने वालों को ₹ 5000 की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। 

साथ ही लाभार्थी बालिकाओं को 18 वर्ष की आयु पूरी करने पर ₹20000 दिया जाएगा। एक परिवार की पहली दो बेटियों को सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ मिलेगा। इस पैसे की राशि हर वर्ग के लोगों के लिए अलग-अलग है। इसका फायदा उठाना बहुत ही आसान है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार के कर्मचारियों की बेटियों को यह लाभ नहीं मिलेगा।

 इस योजना के माध्यम से SECC-2011 की जनगणना के तहत आने वाले परिवारों की 27 लाख लड़कियों और 10 लाख अंत्योदय कार्ड धारक परिवारों को लाभ होगा। यानी कुल 37 लाख परिवार की लड़कियों को इस योजना का लाभ मिल सकेगा। इस पैसे का लाभ उठाने के लिए आपको अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र से संपर्क करना होगा। फिर Child Development परियोजना अधिकारी को फॉर्म भरना होगा और आवश्यक दस्तावेज जमा करने होंगे।

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना overview

Scheme Nameसावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना 2022  
Launched In      2022
Launched Byझारखंड।
Supervised Byपूर्व मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ।
Number Of Installments6 किश्तें।
Last updated 20TH October, 2022
Year of project implementationसुकन्या योजना 2019 में राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई थी लेकिन 2022 में इस योजना को बदलकर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना कर दिया गया।
Categoryझारखंड सरकार के माध्यम से।
Beneficiaryक्लास ८ से १२ क्लास तक आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा, लाभार्थी बालिका को उसकी उच्च शिक्षा या 18 वर्ष की आयु पूरी करने के बाद शादी के लिए ₹20000 का अनुदान दिया जाएगा। 
Purposeराज्य में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देना और महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना। 
Application procedureऑफ़लाइन।
Helpline Number
Official Websitejharkhand.gov.in

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का उद्देश्य

झारखंड सरकार ने विभिन्न उद्देश्यों को पूरा करने के लिए झारखंड राज्य में इस योजना की शुरुआत की है। सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना शुरू करने का झारखंड सरकार का मुख्य उद्देश्य राज्य में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है ताकि लड़कियां आसानी से शिक्षा प्राप्त कर सकें।

झारखंड सरकार भी इसके जरिए महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना चाहती है। सरकार का लक्ष्य अधिक से अधिक लड़कियों को योजना से जोड़ना है ताकि उन्हें योजना का लाभ मिल सके। 

आमतौर पर देखा जाता है कि जो लड़कियां पढ़ना चाहती हैं लेकिन आर्थिक तंगी के कारण नहीं मिल पाती हैं, इच्छुक लड़कियां सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के माध्यम से आसानी से शिक्षा प्राप्त कर सकती हैं।

आर्थिक सहयोग से बालिकाएं अपनी शिक्षा जारी रख सकेंगी। ताकि वे आसानी से शिक्षा ग्रहण कर सकें। जिससे उसका भविष्य उज्ज्वल होगा और वह अपना बेहतर जीवन जी सकेगा। इससे बाल विवाह को रोका जा सकेगा और प्रधानमंत्री मोदी के बेटी बचाओ बेटी पढ़ा अभियान को बढ़ावा मिलेगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

राज्य में बालिकाओं की सुरक्षा के स्तर में सुधार होगा। साथ ही राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर झारखंड और में शिक्षा की दर में वृद्धि होगा। लड़कियां अपनी योग्यता का परचम लहरा सकती हैं। हम जानते हैं कि इससे राज्य की 8 लाख से अधिक किशोरियों को लाभ होगा, जबकि सरकार पर 4.50 लाख करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा।

  1. सावित्रीबाई फुले समृद्धि योजना का मुख्य उद्देश्य किश्तों में आर्थिक सहायता प्रदान करके लड़कियों को शिक्षा में शामिल करना है।
  2. बाल विवाह की रोकथाम और बालिका शिक्षा को बढ़ावा देना।
  3. महिला सशक्तीकरण।
  4. लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना।
  5. बेटी बचाओ बेटी पढाओ परियोजना सफल होनी चाहिए।
  6. सावित्री बाई फुले बालिका समृद्धि योजना का उद्देश्य बालिकाओं की रक्षा करना है।
  7. कन्या भ्रूण हत्या को रोकना भी किसी भी योजना का प्रमुख लक्ष्य होता है।

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना की विशेषताएं

  1. झारखंड में मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की शुरुआत 2019 में हुई थी, लेकिन अब 2022 में इस योजना को बदलकर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना कर दिया गया है.
  2. झारखंड के मुख्यमंत्री श्री रघुबर दास ने सावित्रीबाई फुले किशोर समृद्धि योजना की शुरुआत की।
  3. योजना के तहत प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता की राशि सीधे बालिकाओं के बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से हस्तांतरित की जाएगी।
  4. इस योजना के तहत आंगनबाडी केंद्रों के माध्यम से आवेदन प्रक्रिया को ऑफलाइन रखा गया है।

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ

  1. मुख्यमंत्री सुकन्या योजना 2019 में झारखंड में शुरू की गई थी। लेकिन अब 2022 में इसे बदलकर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना कर दिया गया है।
  2. अर्थात अब बालिकाओं को मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा बल्कि सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ को दिया जायेगा.
  3. इस योजना के माध्यम से लड़कियां अपनी उच्च शिक्षा जारी रख सकेंगी।
  4. इस परियोजना के माध्यम से झारखंड राज्य में लड़कियों की शिक्षा दर में जबरदस्त वृद्धि होगी और बेटी बचाओ बेटी पराओ अभियान को भी लागू किया जाएगा।
  5. इस योजना के माध्यम से क्लास ८ से  १२ क्लास तक आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  6. लाभार्थी बालिका को उसकी उच्च शिक्षा या 18 वर्ष की आयु पूरी करने के बाद विवाह के लिए ₹20000 का अनुदान प्रदान किया जाएगा।
  7. राज्य की SECC-2011 की जनगणना के तहत 37 लाख से भी ज्यादा पारिवारिक की लड़कियों को लाभ मिलेगा।
  8. झारखंड सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के तहत प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता की राशि DBT के माध्यम से सीधे बालिका के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।
  9. इस योजना के तहत आंगनबाडी केंद्रों के माध्यम से आवेदन प्रक्रिया को ऑफलाइन रखा गया है। 
  10. यह परियोजना राज्य में लड़कियों को शिक्षा से जोड़ेगी, जिससे लड़कियों का भविष्य उज्जवल होगा।
  11. सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना को राज्य में लड़कियों के लिए मुख्यमंत्री सुकन्या योजना द्वारा प्रतिस्थापित किया जाएगा। 

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ किसे मिलेगा

savitribai phule kishori samridhi yojana ke liye aavedan kaise kare
savitribai phule kishori samridhi yojana ke liye aavedan kaise kare

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का Budget   

  1. राज्य सरकार 8 और 9 क्लास में पढ़ने वाली लाभार्थी लड़कियों को 2500 रुपये और 10th, 11th और 12th क्लास में पढ़ने वाली लड़कियों को 5000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।
  2. लाभार्थी बालिकाओं को 18 वर्ष की आयु पूरी करने पर ₹ 20,000 का अनुदान दिया जाएगा।
  3. सरकार पर कुल 4.50 लाख करोड़ रुपये का बोझ पड़ रहा है।

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का पैसा कैसे मिलेगा

The InstallmentInstallment DetailsFinancial Assistance (in Rs.)
पहली किश्तClass 82500
दूसरी किश्तClass 92500
तीसरी किस्तClass 105000
चौथी किस्तClass 115000
पांचवी किश्तClass 125000
छठी किस्त18 साल की उम्र तक पहुंचने के बाद20000

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का जरूरी तारीख

सुकन्या योजना 2019 में राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई थी लेकिन 2022 में इस योजना को झारखंड में सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना में बदल दिया गया था। हालाँकि, अंतिम बार 20 अक्टूबर, 2022 को अपडेट किया गया था।

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का Eligibility Criteria   

  1. आवेदक बालिका को झारखंड का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  2. SECC-2011 की जनगणना और अंत्योदय कार्ड धारक परिवारों की केवल बालिकाएँ ही इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र हैं।
  3. अगर किसी लड़की की शादी 18 साल की उम्र से पहले हो जाती है। तो वो लड़की इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते है। 
  4. अगर लड़की की उम्र 18 साल है तो उसका नाम वोटर लिस्ट में होना चाहिए। तभी उस लड़की आखरी क़िस्त मिलेगी। 
  5. Sec-2011 की जनगणना में शामिल परिवारों की केवल बालिकाएँ और अंत्योदय कार्ड धारक ही इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र माने जाएंगे।
  6. आवेदक के पास बैंक अकाउंट होना चाहिए। और इसे आधार कार्ड से लिंक हो जाना चाहिए।
  7. अगर लड़की की माता पिता सरकारी कर्मचारी है तो आपको इस योजना क लाभ नहीं मिलेगा 
  8. अंतिम किश्त राशि प्राप्त करने के लिए आवेदक को 19 वर्ष की आयु से पहले आवेदन करना होगा।

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के आवश्यक दस्तावेज

  1. आधार कार्ड,
  2. निवास प्रमाण पत्र,
  3. अंत्योदय कार्ड,
  4. जन्म प्रमाणपत्र,
  5. निवास प्रमाण की फोटोकॉपी,
  6. SECC-2011 के तहत निगमन का प्रमाण पत्र,
  7. स्कूल उपस्थिति प्रमाण पत्र,
  8. क्लास स्टडी प्रमाण पत्र,
  9. विद्यालय छोड़ने का प्रमाणपत्र,
  10. आय प्रमाण पत्र,
  11. पासपोर्ट के आकार की तस्वीर,
  12. जन्म का सर्टिफिकेट 
  13. बैंक का बिबरन पेज,
  14. बच्ची आठवीं से बारहवीं कक्षा में पढ़ रही है। इसके लिए जाँच की जाएगी,
  15. 18 वर्ष पूरे होने पर वोटर कार्ड की फोटोकॉपी,
  16. मोबाइल नंबर 

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के Online Portal   

  1. Official Website –  jharkhand.gov.in

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का आवेदन पत्र

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का आवेदन पत्र
सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का आवेदन पत्र

savitribai phule kishori samridhi yojana ke liye aavedan kaise kare

  1.  इस योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले बालिका को नजदीकी आंगनबाडी केंद्र में जाकर आंगनबाडी केंद्र कर्मचारी से सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना आवेदन पत्र प्राप्त करना होआ।
  2. योजना का आवेदन पत्र प्राप्त होने के बाद आवेदन पत्र में मांगी गई सभी जानकारी निर्धारित स्थान पर दर्ज की जानी चाहिए। ध्यान दें कि आपको सभी विवरण सही दर्ज करने होंगे, अन्यथा आपका आवेदन रिजेक्ट कर दिया जाएगा।
  3. योजना आवेदन पत्र में उनके निर्धारित स्थानों में सभी जानकारी दर्ज करने के बाद, आपको आवश्यक दस्तावेजों की फोटोकॉपी भी संलग्न करनी होगी।
  4. अब आवेदन पत्र के ऊपर अपना पासपोर्ट आकार का फोटो चिपकाएं जहां उल्लेख किया गया है।
  5. अब जहां भी बालिका से आवेदन पत्र पर हस्ताक्षर करने को कहा जाएगा, उसे स्वयं के हस्ताक्षर करने होंगे। यदि बालिका हस्ताक्षर करना नहीं जानती है तो वह अपने अंगूठे का निशान भी दे सकती है।
  6. अब लड़की को Block Development Officer या District Social Welfare Officer में जाकर आवेदन जमा करना होगा
  7. इस प्रकार सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के तहत लड़कियां आवेदन कर सकती हैं।
Bharat Sarkar Suvidha Home pageClick here
More updateClick here
Join our Facebook pageClick here
Join our WhatsApp groupClick here

Leave a Comment